INNPI

सच के पीछे का सच

‘मैं भी चौकीदार’ कैंपेन: पीएम ने बताया, फिर आई मोदी सरकार तो क्या होंगे उनके प्लान

1 min read

पीएम मोदी ने कहा कि हम किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को 2022 तक हासिल कर लेंगे। पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं 2014 से 2019 तक कुछ लोगों को जेल के दरवाजे तक ले गया हूं। आने वाले समय में देश के लोगों को लूटने वालों के प्रति और सख्ती बरतने का काम करेंगे।

हाइलाइट्स

  • पीएम नरेंद्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का किया वादा। कहा, अब तक भरे गड्ढे, आगे आकांक्षाएं करेंगे पूरी
  • पीएम मोदी ने एक संत और उसके शिष्य की कहानी सुनाते हुए कहा कि आप लोगों को विपक्ष के टेप रिकॉर्ड की बजाय ट्रैक रिकॉर्ड को देखना चाहिए
  • नेहरू-गांधी परिवार पर वार करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने 4 पीढ़ियों तक शासन किया और गरीबी बढ़ाते चले गए

नई दिल्ली
देश के 500 स्थानों पर ‘मैं भी चौकीदार‘ कैंपेन के तहत विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर सत्ता में आने पर अपनी सरकार का प्लान भी बताया। दरअसल, इस आम चुनाव में पहली बार मतदान करने जा रही अरुणाचल की एक छात्रा ने पूछा कि आखिर हम आपको वोट क्यों दें? आपको बताना चाहिए कि अगले 5 साल में आपकी सरकार क्या करेगी? इस पर पीएम मोदी ने कहा कि अब तक हमने देश की व्यवस्था में गड्ढों को भरने का काम किया है और अब आगे आकांक्षाओं को पूरा करेंगे।

मोदी बोले, डायरेक्ट बिचौलिया ट्रांसफर करती थी कांग्रेस

मोदी ने कहा, ‘पिछले 5 वर्षों में मैंने आवश्यकताओं को पूरा करने को प्राथमिकता दी। टॉइलट, बिजली, पानी, गांवों में रास्ता दिया, रेल, रोड, एयरपोर्ट को पूरा करने का प्रयास किया है। उसमें जो कमी रह गई है, उसे पूरा करना है और अगले 5 वर्षों का फोकस आकांक्षाओं को पूरा करने का होगा।’ उन्होंने कहा कि 2022 तक देश के हर परिवार के पास रहने के लिए पक्का घर होगा। ऐसे अनेक सपनों को लेकर हम चले हैं।

भ्रष्टाचारियों को जेल के दरवाजे पर लाए, अब आगे ऐक्शन

मुख्य तौर पर किसानों की आय को दोगुनी करने की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम 2022 तक इस लक्ष्य को हासिल कर लेंगे। पीएम ने कहा, ‘मैं 2014 से 2019 तक कुछ लोगों को जेल के दरवाजे तक ले गया हूं। आने वाले समय में देश के लोगों को लूटने वालों के प्रति और सख्ती बरतने का काम करेंगे। देश को 5 ट्रिलियन इकॉनमी बनाने की ओर ले जाना है। इसके अलावा भारत के एजुकेशन सिस्टम को ग्लोबल बेंचमार्क पर ले जाना है। इस बार के मेरे 5 साल गड्ढे भरने में लग गए। अब अगले 5 साल तक देश को रफ्तार पकड़ाने का काम करूंगा।’

नेहरू-गांधी परिवार को बताया गरीबी के लिए जिम्मेदार
पीएम मोदी ने अपने लक्ष्य गिनाने के साथ ही विपक्ष के चुनावी वादों पर भी वार किया। पीएम मोदी ने एक संत और उसके शिष्य की कहानी सुनाते हुए कहा कि आप लोगों को उनके टेप रिकॉर्ड की बजाय ट्रैक रिकॉर्ड को देखना चाहिए। नेहरू-गांधी पर परिवार सीधा हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनकी 4 पीढ़ियों ने शासन किया और देश में गरीबी बढ़ती चली गई। नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘देश के पहले प्रधानमंत्री ने गरीबी को दूर करने का वादा किया और गरीबी बढ़ाते गए। फिर उनकी बेटी आई और गरीबी मिटाने का नारा देकर गरीबी बढ़ाई। फिर बेटी के बेटे ने ऐसा किया और फिर उस बेटे की पत्नी ने रिमोट सरकार चलाकर गरीबी बढ़ाई। अब शाहजादे आए हैं और गरीबी मिटाने की बात कर रहे हैं।’ पीएम मोदी ने कहा कि हमें ऐसे लोगों से निपटना होगा।

LIVE: ‘मैं भी चौकीदार’ इवेंट में मोदी ने क्या कहा

गुरु-चेले की कहानी सुनाकर किया कांग्रेस के वादों पर वार

पीएम मोदी ने एक कहानी सुनाते हुए कहा, ‘एक संत महात्मा थे। उनकी अपनी एक पहुंच थी। किसी ने विदेश में उनकी बहुत तारीफ सुनी थी तो उसने उनसे पत्र व्यवहार किया और भारत आया। वह आया तो उसे गुरुजी के शिष्यों ने फाइव स्टार होटल में रखा। वह मजे से रहने लगा और आश्रम के लोग पैसे दे रहे थे। लेकिन, गुरु से शिक्षा नहीं ले रहा था और मौज कर रहा था। इसके बाद वह काफी दिनों बाद बैठा रहा। गुरु मंत्र लेने से बचता रहा। अंत में एक दिन गुरुजी के शिष्यों ने कहा कि आज गुरु मंत्र ले लो वरना फिर मौका नहीं मिलेगा। अंत में उसने थक-हारकर गुरु मंत्र लिया। गुरु ने जब मंत्र दिया तो चेलों ने कहा कि आपको दक्षिणा देनी चाहिए। वह हिलता ही नहीं था। सबने दबाव डाला कि आपको दक्षिण देनी चाहिए। इसके बाद वह खड़ा हुआ और गुरुजी के कान में कुछ कहा और फिर बैठ गया। होटल चला गया तो चेलों ने कहा कि आपने गुरुजी को क्या दिया। उसने कहा कि उन्होंने मुझे कान में कहा था कि आपको मोक्ष दिया तो मैंने उनके कान में कहा कि आपको वॉशिंगटन और न्यू यॉर्क दिया।’

साभार नव भारत टाइम्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *