स्काईमेट का अनुमानः सामान्य से कम रहेगा मानसून, सूखा पड़ने की संभावना

मौसम का अनुमान लगाने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने मानसून के सामान्य से नीचे रहने का अनुमान लगाया है। स्काईमेट का जून में औसतन 77 फीसदी बारिश का अनुमान है। वहीं, अगस्त-सितंबर में सामान्य बारिश का अनुमान है।

स्काईमेट ने कहा है कि इस साल जून में 75 फीसदी सामान्य से कम बारिश की संभावना है। वहीं, जुलाई में 55 फीसदी सामान्य से कम बारिश की संभावना। जून-सितंबर में 93 फीसदी बारिश का अनुमान है। एजेंसी के मुताबिक, ‘मई-जुलाई में 66 फीसदी अलनीनो की संभावना है। हमें लगता है कि सूखा पड़ने की संभावना 15 फीसदी है, जबकि अत्यधिक बारिश की कोई संभावना नहीं।

PunjabKesari

सामान्य से कमजोर रह सकता है मॉनसून
करीब दो लाख करोड़ डॉलर से अधिक की भारतीय अर्थव्यवस्था कृषि केंद्रित है, जो पूरी तरह से मानसून पर निर्भर है। भारत में सालाना होने वाली बारिश में मानसून की हिस्सेदारी 70 फीसदी से अधिक होती है। जून से शुरुआत होने वाले मानसून सीजन के दौरान 50 सालों के औसत 89 सेंटीमीटर से अधिक बारिश होने को सामान्य कहा जाता है, जो 96 फीसदी से 104 फीसदी के बीच होता है।

PunjabKesari

शेयर बाजार की चाल पड़ी सुस्त
इससे देश के भीतर अच्छी कृषि और 2.6 लाख करोड़ डॉलर की इकोनॉमी वाले देश में इकोनॉमिक ग्रोथ के अनुमानों को झटका लग सकता है। इस खबर के बाद शेयर बाजार में भी गिरावट देखी गई। इससे पहले शेयर बाजार मजबूती के साथ कारोबार कर रहा था।

PunjabKesari

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *