तिरंगा हो कफ़न मेरा, अभी अरमान बाकी है

हमारी फ़ौज के दम से, मेरा अभिमान बाकी है, तिरंगा हो कफ़न मेरा, अभी अरमान बाकी है। ** हमीद से वीर जिन्दा हैं, वतन

Read more